Thursday, December 8, 2011

हर बीमारी का शर्तिया इलाज --डॉ पाबला जी भिलाई वाले.



ब्लोगिंग में अपनी एक आदत है --जो पोस्ट पसंद आए , मैं उस पर दोबारा ज़रूर जाता हूँ . कल वीरुभाई जी की एक पोस्ट पढ़ी -- नाश्ते के लिए अब वक्त कहाँ ? पढ़कर ऐसा लगा जैसे हमारी ही हालत बयाँ कर दी . दूसरों के विचार जानने की उत्सुकता बढ़ी तो दोबारा गए .

लगभग सभी ने इस बात का अनुमोदन किया . वैसे भी भाग दौड़ की शहरी जिंदगी में लोगों के पास सचमुच नाश्ते का भी समय नहीं होता .

लेकिन अशोक सलूजा जी की टिप्पणी ने ध्यान विशेष रूप से आकर्षित किया . लिखा था --वीरू भाई टिप्पणी गायब हो रही है ...उसे स्पैम से निकालें ऐसे ...साथ ही पाबला जी का एक लिंक भी दिया हुआ था --

http://www.blogmanch.com/viewtopic.php?f=7&t=25

इसे पढ़कर अपनी तो आँखें ही खुल गई .

सौ सौ साल जियो हमारे पाबला जी .

कई दिनों से ऐसा महसूस हो रहा था जैसे ब्लोगर्स में ब्लोगिंग के प्रति उदासीनता सी आ गई है . कई मित्रों की शिकायत आ रही थी की टिप्पणियां नहीं छप रही . मामला कुछ समझ नहीं आ रहा था . यह तो अंदेशा था की यह सब गूगल की करामात है लेकिन हल क्या है , यह समझ नहीं आ रहा था .


लेकिन वाह रे पाबला जी . लगता है जैसे उनके पास हर तकनीकि समस्या का हल है .सच पूछिए तो हम डॉक्टर्स के पास भी हर बीमारी का इलाज़ नहीं होता .
लिंक पर जाकर देखा --जैसा बताया गया था , वैसा किया --और यह क्या, पिछली ४-५ पोस्ट की ६५ टिप्पणियां स्पैम में पड़ी थी .

अब समझ आया क्यों टिप्पणीकार शिकायत कर रहे थे . लेकिन स्पैम हटाने से सारी टिप्पणियां प्रकाशित हो गई .
आशा करते हैं की एक बार स्पैम से हटाने के बाद दोबारा ऐसा नहीं होगा .

फ़िलहाल तो हम श्री पाबला जी का तहे दिल से शुक्रिया अदा करते हैं . पाबला जी , हमारी ओर से आपकी एक ट्रीट निश्चित रही .


34 comments:

  1. 65 टिप्पणियाँ ! फ़ेर तो बल्ले बल्ले हो गयी जी। हमारा तो स्पैम भी सूखा पड़ा है।

    राम राम

    ReplyDelete
  2. पाबला जी का दुवाखाना हम देख आए जी कई बार, बड़ा गजब का है। उसका जिक्र हमने एक बार यहाँ किया था।

    ReplyDelete

  3. यह ब्लॉग सरदार बेहद मददगार भी है डॉ दराल....
    मेरे पास कई बार ब्लोगर साथियों की एस ओ एस काल आई हैं !
    हर बार बिना पाबला जी से अनुमति लिए उन्हें वे काल उन्हें फारवर्ड करदी ....
    कईयों को पाबला जी का फोन नंबर दे दिया और निश्चिन्त हो जाता हूँ !
    हर बार उन्होंने जरूरत मंदों को समय दिया है ...
    वे ऐसे ही हैं...अच्छा किया आपने एक बढ़िया इंसान को हाई लाईट किया !
    हार्दिक आभार

    ReplyDelete
  4. जय हो... जय हो... पाबला जी की जय हो..

    अब तो ट्रीट में हमें भी शामिल कीजियेगा जी.

    ReplyDelete
  5. पाबला जी ..तुसी ग्रेट हो...

    ReplyDelete
  6. अज इक कमाल दी गल ऐ हुई की जदों असी ए पोस्ट स्ड्युल किती , तां ई अकाउंट डिसेबल हो गया ।
    फेर ते असी लख कोशिश कर लिती , पर कुछ नहीं हो सका । तां फेर शामी आखिर पाबला जी दी शरण विच ही जाना पया । पाबला जी ने जाणे की चमत्कार कीत्ता के panj minat विच ब्लॉग चालू हो गया जी ।
    ए पोस्ट वि तुसी पाबला जी की मेहरबानी तों padh रहए हो ।

    ReplyDelete
  7. डॉ, दराल जी .
    आभार! आप की पोस्ट का ,पाबला जी के आशीर्वाद से सब का भला होगा ....आमीन ...

    ReplyDelete
  8. सतीश जी , हमने तो शाम को ही पाबला जी को पकड़ लिया । वैसे भी rat tak ka intzar kaise करते ।
    ज़रूर राकेश जी ।

    आज net भी nakhre dikha raha hai । जाने kyon ?

    ReplyDelete
  9. पाबला जी के पास एक मर्ज़ तो वीरुभाई के पास दूसरे मर्जों की बड़ी हकीमी दवाईयां मौजूद रहती हैं -अभी आज ही बातें हुयी हैं :)

    ReplyDelete
  10. शीर्षक देखकर चौंका.....कि कहीं नीम-हकीम जैसा कोई विज्ञापन तो नहीं है,पर बाद में पाता चला कि यह सब पाबलाजी का किया-धरा है !

    जय हो पाबलाजी की !ब्लॉगिंग-पुरुष -२०११ !!

    ReplyDelete
  11. सिंह इज किंग...सिंह इज किंग...सिंह इज किंग।

    ReplyDelete
  12. इस पोस्ट को पढ़कर अपना डैशबोर्ड चेक किया। मजे की बात कि उसमें आप वाला कमेंट ही स्पैम में था। नियमित चेक करते रहना चाहिए मगर अक्सर भूल हो ही जाती है।

    ReplyDelete
  13. आजकल तो यह भी एक काम हो गया है, स्पैम से टिप्पणियों को पकड़ कर लाने का।

    ReplyDelete
  14. चिठ्ठाकारियो की हर बीमारी में रामबाण हैं पाबला जी .वाह क्या बात है .मैं भी आजमाता हूँ .फिर लौट के आता हूँ .

    ReplyDelete
  15. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  16. पाबला जी - तुस्सी ग्रेट हो!!!!!

    ReplyDelete
  17. बिल्‍कुल सही कहा है आपने ज्‍यादातर टिप्‍पणियां स्‍पैम पर ही जाती हैं ... निश्चित रूप से पाबला जी बधाई के पात्र हैं ..आभार ।

    ReplyDelete
  18. मेरे ब्लॉग में,स्पैम में ऐसी कई टिप्पणियां दिख रही हैं जो ब्लॉग पर भी स्वतः प्रकाशित हैं। यह क्या माजरा है पाबला जी?

    ReplyDelete
  19. डॉक्टर साहिब, जब मैंने ईमेल से मेरी टिप्पणियाँ गायब होने के विषय में पूछा तो आपने मुझे पाबला जी से इलाज पूछने की सलाह दी थी,,, और कल शाम मैंने भी देखा तो पढ़ा की आपका ब्लॉग हट गया था!... कई दुकानों में पढ़ते भी थे "यहाँ घड़ियों का इलाज होता है" आदि,,,, अच्छा हुआ अपने डॉक्टर पाबला जी से इस 'स्पैम' की बिमारी का निदान पा लिया :)

    "वाहे गुरु दा खालसा / ते वाहे गुरु दी फतह"!!!

    ReplyDelete
  20. Always a fun to read ur posts :)
    Now heading towards the above mentioned post !!

    ReplyDelete
  21. हम भी पाबला जी समाधान के कायल हैं और अशोक जी के भी. मेरी ताज़ी पोस्ट पर अशोक जी ने कमेन्ट डाला और अचानक वह गायब हो गया. अशोक जी ने यह सूचना मुझे मेल से दी और पाबला जी का लिंक भी भेजा. वह देख लिया फिर भी स्पाम का राज हाथ ना लगा क्योंकि एक दुर्घटना और घट चुकी थी मेरे साथ वह थी सन्डे को पोस्ट डालने के कुछ देर बाद मेरा ब्लॉग गायब हो गया. मेल भी ब्लोक हो गया. गूगल सन्देश भेजा फिर रात में ब्लॉग रिकवर हुआ. मैंने सोचा हो सकता है इस कारण ही टिप्पणी गायब हुई हो. अशोक जी ने फिर से टिप्पणी डाल के देखा तो टिप्पणी फिर गायब. पाबला जी की याद फिर आई क्योंकि अब स्पैम के अलावा कोई कारण नहीं है. एक बार फिर से अभियान छेड़ा तो स्पैम का राज मिल गया और अनेक टिप्पणियां भी छुपी मिली. धन्यबाद ब्लॉग के डॉक्टर का और अशोक जी का भी.

    ReplyDelete
  22. Good to read and thanks for yr comments sirJi.

    ReplyDelete
  23. पाबला जी दा जवाब नहीं....

    ReplyDelete
  24. Good to read and thanks for yr kind comments.

    ReplyDelete
  25. पाबलाजी के ब्लॉग से साभार ली है ये पंक्तियां-

    कम्पयूटर अविश्वसनीय रूप से तेज, सटीक और भोंदू है.
    पाबला अविश्वसनीय रूप से धीमा, अस्पष्ट और प्रतिभावान है.
    लेकिन दोनों मिलकर, कल्पना-शक्ति से ज़्यादा ताकतवर हैं...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  26. सही कहा , खुशदीप । पाबला जी की कंप्यूटर नोलेज कमाल की है ।

    ReplyDelete
  27. रचना जी , आपकी टिप्पणी अभी अभी स्पैम से निकाली है ।
    अब तो लगता है , डेली चेक करना पड़ेगा ।

    ReplyDelete
  28. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज के चर्चा मंच पर भी की गई है। चर्चा में शामिल होकर इसमें शामिल पोस्ट पर नजर डालें और इस मंच को समृद्ध बनाएं.... आपकी एक टिप्पणी मंच में शामिल पोस्ट्स को आकर्षण प्रदान करेगी......

    ReplyDelete
  29. पाबला जी मदद तो दिल खोल कर करते हैं , कोई शक नहीं !

    ReplyDelete
  30. मेरा ब्लांग खोजाने पर पाबला जी ने ही मदद की है..

    ReplyDelete
  31. आप की पोस्ट आज की ब्लोगर्स मीट वीकली (२१)में शामिल की गई है /आप आइये और अपने विचारों से हमें अवगत करिए /आप हिंदी की सेवा इसी तरह करते रहें यही कामना है /आपका मंच पर स्वागत है /जरुर पधारें /लिंक है / http://hbfint.blogspot.com/2011/12/21-save-girl-child.html

    ReplyDelete
  32. डॉ सा'ब
    आपने तो चने के झाड़ पर चढ़ा दिया नाचीज को :-)

    स्नेह बनाए रखिएगा

    ReplyDelete