Monday, March 26, 2018

पति पत्नी इक दूजे से पूरे होते हैं ---



मैसाज कराकर बॉडी का मन में हरियाली हो गई ,
मैसाज के चक्कर में पर म्हारी घरवाली खो गई।

इत् उत् जाने कित कित ना ढूंढा पर हम हार गए,
इंतज़ार में उनके हम तीन कप कॉफी डकार गए।

तन का तनाव किया था जो कम फिर बढ़ने लगा,
अब तन के साथ मन पर भी संताप चढ़ने लगा।

हमने मुनादी करा दी कि एक अनहोनी हो गई है ,
किसी को दिखे तो बताओ हमारी पत्नी खो गई है।

आखिर मिली साड़ी की दुकान पर खड़ी थी उदास ,
क्योंकि फोन उनके पास था और कार्ड़ हमारे पास।

हमारे पास नहीं था मोबाईल तो फोन कैसे करती ,
उनके पास नहीं था कार्ड तो खरीदारी कैसे करती।

इसीलिए पति पत्नी इक दूजे के बगैर अधूरे होते हैं ,
सच तो यही है कि पति पत्नी इक दूजे से पूरे होते हैं।


Sunday, March 4, 2018

बुरा ना मानो होली है --




तन को तो रंग डाला,
मन पर भी रंगत लाओ, तो होली है।

जो दिलों से न उतर पाये ,
रंग वो प्यार के चढ़ाओ, तो होली है।

गले तो रोज पड़ते हो यार ,
कभी प्यार से गले लगाओ, तो होली है। 

रोज नाचते हो जिसके इशारों पर ,
होली में संग उसे भी नचाओ, तो होली है।

भगौड़े बन कर बैठे हैं जो विदेश में ,
उन धन्ना सेठों को वापस लाओ, तो होली है।

'कुमारों' को तो रोज सुनते हो ,
कभी 'दरालों' को भी बुलाओ, तो होली है।