Thursday, January 3, 2019

गत वर्ष का एक निष्पक्ष लेखा जोखा --


देखते देखते गुजर गया एक और साल,
जाते जाते देखिये कर गया क्या हाल । 
हम ले रहे थे ऑस्ट्रेलिया में गर्मियों के मज़े,
यहाँ तो सर्दी और प्रदुषण ने कर दिया बेहाल। 

हम तो विदेश में करते रहे मोदीत्त्व का प्रचार,
पर चिंता में डालने लगे चुनावी नतीजों के समाचार।   
भारत तो अभी कांग्रेस मुक्त हुआ भी नहीं था,  
कि उत्तर भारत में भाजपा की ही हो गई हार। 

संसद में राहुल ने मोदी को दी जादु की झप्पी,
मोदी सोचते रह गए ये बालक कैसा है झक्की। 
भाषण तो संसद में जोरदार दिया था राहुल ने,
पर मुई आँख चलने से सरे आम हो गई कच्ची। 

आँख संसद में चल जाये तो हंगामा हो जाता है,
आँख पब्लिक में चल जाये तो मज़मा हो जाता है। 
आँख चलाने का सबब जाकर प्रिया प्रकाश से पूछो,
आँख चल जाये तो अज़नबी भी सेलेब्रिटी हो जाता है। 

सिद्धू ने ठोको ठोको बोलते भाजपा को ही ठोक डाला, 
पंजाब की कांग्रेस में शामिल होकर खेल खेला निराला। 
हमारी सेना तो कश्मीर में लड़ती रही आतंकवादियों से,
उसने इमरान से मिलकर पाकिस्तान ही जिंदाबाद कर डाला। 

दीपिका का दिल रणवीर की मूंछों पर ढह गया,
रणबीर का मन आलिया की मासूमियत में बह गया। 
प्रियंका को भी मिल गया एक फिरंगी बच्चा ,
पर सलमान इस साल भी कुंवारा ही रह गया। 

हनी हनी करते रहे राम रहीम खुले आम,
राम राम रटते रहे रामपाल और आसाराम। 
ना हनी मिली ना राम मिले किसी को भी, 
पर लालू यादव को मिल गया जेल का आराम।    

क्रिकेट में ब्लाइंड और अंडर १९ टीमों ने जीते विश्व कप,
मिताली राज ने महिला टी २० में बनाये रन सबसे अधिक।
दीपा कर्मकार ने जिम्नास्टिक्स में जीता पहला विश्व गोल्ड मैडल,
मैग्ससे अवार्ड लेकर देश की शान बने लद्दाख के सोनम वांगचुक।     


3 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (04-01-2019) को "वक़्त पर वार" (चर्चा अंक-3206) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  2. ब्लॉग बुलेटिन की दिनांक 04/01/2019 की बुलेटिन, " Son-in-Law बनाम Sunny Leone - ब्लॉग बुलेटिन “ , में आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  3. सालभर का सार्थक विवेचन

    ReplyDelete