Thursday, April 7, 2016

मधु के सेवन से कभी , मधुमेह नहीं होता ---


विश्व स्वास्थ्य दिवस पर प्रस्तुत हैं कुछ काम की बातें :



सिगरेट पीते थे हमदम, हम दम भर कर ,
अब हरदम हर दम पर, दम निकलता है।

गुटखा खाते थे वो , मुंह में चबा चबा कर ,
अब खाने को भी , मुंह ही नहीं खुलता है।  

मत समझो दाने दाने में है केसर का दम ,
होता है दाने दाने में कैंसर का डर हरदम।

ग़र जी भर कर वर्षों तक, पीते रहे शराब ,
जिगर फिर इक दिन होकर रहेगा खराब।

मधु के सेवन से कभी , मधुमेह नहीं होता ,
ग़र हो जाये तो सही, मधु से नेह नहीं होता।

निष्क्रिय न रहो , चलो काम पर लगा जाये ,
वेट और पेट घटाने को , ज़रा तेज चला जाये।

वरना घेर लेंगे बी पी , शुगर, आर्थराइटिस ,
और सेहत की हो जायेगी टायं टायं फिस।